31.1 C
Bhubaneswar
May 29, 2024
Aarti

Ambe Tu Hai Jagdambe Kali | अम्बे तू है जगदम्बे काली

Credit the Video : T-Series Bhakti Sagar YouTube Channel

Ambe Tu Hai Jagdambe Kali

Ambe Tu Hai Jagadambe Kali,
Jai Durge Khappara Wali,
Tere Hi Guna Gaven Bharati
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti॥

Tere Bhakta Jano Para Mata,
Bheer Padi Hai Bhari Maa।
Danava Dala Para Tut Pado,
Maa Karake Sinha Sawari॥
Sau-Sau Sihon Se Balashali,
Hai Ashta Bhujaon Wali,
Dushton Ko Tu Hi Lalakarati।
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti॥

Ambe Tu Hai Jagadambe Kali,
Jai Durge Khappara Wali,
Tere Hi Guna Gaven Bharati
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti॥

Maa-Bete Ka Hai Isa Jaga Mein,
Bada Hi Nirmala Nata।
Puta-Kaputa Sune Hai Para Na,
Mata Suni Kumata॥
Saba Pe Karuna Darshane Wali,
Amrita Barasane Wali,
Dukhiyon Ke Dukhade Nivarati।
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti॥

Ambe Tu Hai Jagadambe Kali,
Jai Durge Khappara Wali,
Tere Hi Guna Gaven Bharati
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti॥

Nahin Mangate Dhana Aur Daulata,
Na Chandi Na Sona।
Hama To Mangen Tere Charanon Mein,
Ek Chhota Sa Kona॥
Sabaki Bigadi Banane Wali,
Lajja Bachane Wali,
Satiyon Ke Sata Ko Sanwarati।
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti॥

Ambe Tu Hai Jagadambe Kali,
Jai Durge Khappara Wali,
Tere Hi Guna Gaven Bharati
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti॥

Charana Sharana Mein Khade Tumhari,
Le Puja Ki Thali।
Varada Hasta Sara Para Rakha Do,
Maa Sankata Harane Wali॥
Maa Bhara Do Bhakti Rasa Pyali,
Ashta Bhujaon Wali,
Bhakton Ke Karaja Tu Hi Sarati।
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti॥

Ambe Tu Hai Jagadambe Kali,
Jai Durge Khappara Wali,
Tere Hi Guna Gaven Bharati
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti॥

O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti
O Maiya Hama Saba Utare Teri Aarti

अम्बे तू है जगदम्बे काली

अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली ।
तेरे ही गुण गाये भारती,
ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥

तेरे भक्त जनो पर माता,
भीर पडी है भारी माँ ।
दानव दल पर टूट पडो,
माँ करके सिंह सवारी ।
सौ-सौ सिंहो से बलशाली,
अष्ट भुजाओ वाली,
दुष्टो को पलमे संहारती ।
ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥

अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली ।
तेरे ही गुण गाये भारती,
ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥

माँ बेटे का है इस जग मे,
बडा ही निर्मल नाता ।
पूत – कपूत सुने है पर न,
माता सुनी कुमाता ॥
सब पे करूणा दरसाने वाली,
अमृत बरसाने वाली,
दुखियो के दुखडे निवारती ।
ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥

अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली ।
तेरे ही गुण गाये भारती,
ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥

नही मांगते धन और दौलत,
न चांदी न सोना माँ ।
हम तो मांगे माँ तेरे मन मे,
इक छोटा सा कोना ॥
सबकी बिगडी बनाने वाली,
लाज बचाने वाली,
सतियो के सत को सवांरती ।
ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥

अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली ।
तेरे ही गुण गाये भारती,
ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥

चरण शरण मे खडे तुम्हारी,
ले पूजा की थाली ।
वरद हस्त सर पर रख दो,
मॉ सकंट हरने वाली ।
मॉ भर दो भक्ति रस प्याली,
अष्ट भुजाओ वाली,
भक्तो के कारज तू ही सारती ।
ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥

अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली ।
तेरे ही गुण गाये भारती,
ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥

Credit the Video: Bhakti Dhara YouTube Channel

इसे भी पढ़े : समस्त कष्टों से मुक्ति के लिए ॐ कृष्णाय वासुदेवाय मंत्र

Disclaimer : Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी की आस्था को ठेस पहुंचना नहीं चाहता। ऊपर पोस्ट में दिए गए उपाय, रचना और जानकारी को भिन्न – भिन्न लोगों की मान्यता और जानकारियों के अनुसार, और इंटरनेट पर मौजूदा जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़कर, और शोधन कर लिखा गया है। यहां यह बताना जरूरी है कि (https://bhaktibharatki.com/) किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पूर्ण रूप से पुष्टि नहीं करता। अम्बे तू है जगदम्बे काली के उच्चारण, किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ, ज्योतिष अथवा पंड़ित की सलाह अवश्य लें। अम्बे तू है जगदम्बे काली का उच्चारण करना या ना करना आपके विवेक पर निर्भर करता है।

इसे भी पढ़े : ओम का अर्थ, उत्पत्ति, महत्व, उच्चारण, जप करने का तरीका और चमत्कार

हमारे बारें में : आपको Bhakti Bharat Ki पर हार्दिक अभिनन्दन। दोस्तों नमस्कार, यहाँ पर आपको हर दिन भक्ति का वीडियो और लेख मिलेगी, जो आपके जीवन में अदुतीय बदलाव लाएगी। आप इस चैनल के माध्यम से ईश्वर के उपासना करना (जैसे कि पूजा, प्रार्थना, भजन), भगवान के प्रति भक्ति करना (जैसे कि ध्यान), गुरु के चरणों में शरण लेना (जैसे कि शरणागति), अच्छे काम करना, दूसरों की मदद करना, और अपने स्वभाव को सुधारकर, आत्मा को ऊंचाईयों तक पहुंचाना ए सब सिख सकते हैं। भक्ति भारत की एक आध्यात्मिक वेबसाइट, जिसको देखकर आप अपने मन को शुद्ध करके, अध्यात्मिक उन्नति के साथ, जीवन में शांति, समृद्धि, और संतुष्टि की भावना को प्राप्त कर सकते। आप इन सभी लेख से ईश्वर की दिव्य अनुभूति पा सकते हैं। तो बने रहिये हमारे साथ:

इसे भी पढ़े : सांस लेने और छोड़ने की क्रिया से मन स्थिर हो जाता है

बैकलिंक : यदि आप ब्लॉगर हैं, अपनी वेबसाइट के लिए डू-फॉलों लिंक की तलाश में हैं, तो एक बार संपर्क जरूर करें। हमारा वाट्सएप नंबर हैं 9438098189.

इसे भी पढ़े : भजगोविन्दं भजगोविन्दं गोविन्दं भज मूढमते

विनम्र निवेदन : यदि कोई त्रुटि हो तो आप हमें यहाँ क्लिक करके E-mail (ई मेल) के माध्यम से भी सम्पर्क कर सकते हैं। धन्यवाद।

इसे भी पढ़े : अमृत ​​है हरि नाम जगत में

सोशल मीडिया : यदि आप भक्ति विषयों के बारे में प्रतिदिन कुछ ना कुछ जानना चाहते हैं, तो आपको Bhakti Bharat Ki संस्था के विभिन्न सोशल मीडिया खातों से जुड़ना चाहिए। इस ज्ञानवर्धक वेबसाइट को अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। उनके लिंक हैं:

Facebook
Instagram
YouTube

कुछ और महत्वपूर्ण लेख:

Hari Sharanam
नित्य स्तुति और प्रार्थना
Om Damodaraya Vidmahe
Rog Nashak Bishnu Mantra
Ram Gayatri Mantra
Dayamaya Guru Karunamaya

Related posts

Ambe Mata Aarti | अम्बे माता आरती

bbkbbsr24

Parvati Mata Aarti Lyrics in English – Bhakti Bharat Ki

bbkbbsr24

Iskcon Tulsi Aarti | सुबह एक बार जरूर सुने इस इस्कॉन तुलसी आरती, आपका दिन शुभ होगा

bbkbbsr24