31.1 C
Bhubaneswar
May 28, 2024
Mantra

Sangachhadhwam Samvadadhwam | मैत्री धुनः प्रार्थनाः ऋग्वेद श्लोक | संगठन मंत्र | संगचद्वम संवादम ऋग्वेद प्रार्थना

Credit the Video : Yoga with Veer YouTube Channel

Sangachhadhwam Samvadadhwam

Om Sangachhadhwam Samvadadhwam
Sam Vo Manamsi Janatam
Deva Bhagam Yatha Purve
Sanjanana Upasate ॥

Samano Mantrah Samitih Samani
Samanam Manah Sahacittamesam
Samanam Mantram Abhimantraye Vah
Samanena Vo Havisa Juhomi ॥

Samani Va Akutih Samana Hrdayani Vah ।
Samanamastu Vo Mano Yatha Vah Susahasati ॥

Om Santi Santi Santihi ॥

मैत्री धुनः प्रार्थनाः ऋग्वेद श्लोक

संगठन मंत्र

संगचद्वम संवादम ऋग्वेद प्रार्थना

ॐ संगच्छध्वं संवदध्वं
सं वो मनांसि जानताम्
देवा भागं यथा पूर्वे
सञ्जानाना उपासते ॥

समानो मन्त्र: समिति: समानी
समानं मन: सहचित्तमेषाम्
समानं मन्त्रमभिमन्त्रये व:
समानेन वो हविषा जुहोमि ॥

समानी व आकूति: समाना हृदयानि व: ।
समानमस्तु वो मनो यथा व: सुसहासति ॥

ॐ शान्तिः शान्तिः शान्तिः ॥

Credit the Video : Nav Yogi YouTube Channel

यह भी देखें: Om Krishnaya Vasudevaya Haraye

Disclaimer : Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी की आस्था को ठेस पहुंचना नहीं चाहता। ऊपर पोस्ट में दिए गए उपाय, रचना और जानकारी को भिन्न – भिन्न लोगों की मान्यता और जानकारियों के अनुसार, और इंटरनेट पर मौजूदा जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़कर, और शोधन कर लिखा गया है। यहां यह बताना जरूरी है कि (https://bhaktibharatki.com/) किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पूर्ण रूप से पुष्टि नहीं करता। संगचद्वम संवादम ऋग्वेद प्रार्थना का अर्थ और महत्व को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ, ज्योतिष अथवा पंड़ित की सलाह अवश्य लें। संगचद्वम संवादम ऋग्वेद प्रार्थना का उच्चारण करना या ना करना आपके विवेक पर निर्भर करता है।

इसे भी पढ़े : अमृत ​​है हरि नाम जगत में

हमारे बारें में : आपको Bhakti Bharat Ki पर हार्दिक अभिनन्दन। दोस्तों नमस्कार, यहाँ पर आपको हर दिन भक्ति का वीडियो और लेख मिलेगी, जो आपके जीवन में अदुतीय बदलाव लाएगी। आप इस चैनल के माध्यम से ईश्वर के उपासना करना (जैसे कि पूजा, प्रार्थना, भजन), भगवान के प्रति भक्ति करना (जैसे कि ध्यान), गुरु के चरणों में शरण लेना (जैसे कि शरणागति), अच्छे काम करना, दूसरों की मदद करना, और अपने स्वभाव को सुधारकर, आत्मा को ऊंचाईयों तक पहुंचाना ए सब सिख सकते हैं। भक्ति भारत की एक आध्यात्मिक वेबसाइट, जिसको देखकर आप अपने मन को शुद्ध करके, अध्यात्मिक उन्नति के साथ, जीवन में शांति, समृद्धि, और संतुष्टि की भावना को प्राप्त कर सकते। आप इन सभी लेख से ईश्वर की दिव्य अनुभूति पा सकते हैं। तो बने रहिये हमारे साथ:

इसे भी पढ़े : भजगोविन्दं भजगोविन्दं गोविन्दं भज मूढमते

बैकलिंक : यदि आप ब्लॉगर हैं, अपनी वेबसाइट के लिए डू-फॉलों लिंक की तलाश में हैं, तो एक बार संपर्क जरूर करें। हमारा वाट्सएप नंबर हैं 9438098189.

इसे भी पढ़े : ओम का अर्थ, उत्पत्ति, महत्व, उच्चारण, जप करने का तरीका और चमत्कार

विनम्र निवेदन : यदि कोई त्रुटि हो तो आप हमें यहाँ क्लिक करके E-mail (ई मेल) के माध्यम से भी सम्पर्क कर सकते हैं। धन्यवाद।

इसे भी पढ़े : समस्त कष्टों से मुक्ति के लिए ॐ कृष्णाय वासुदेवाय मंत्र

सोशल मीडिया : यदि आप भक्ति विषयों के बारे में प्रतिदिन कुछ ना कुछ जानना चाहते हैं, तो आपको Bhakti Bharat Ki संस्था के विभिन्न सोशल मीडिया खातों से जुड़ना चाहिए। इस ज्ञानवर्धक वेबसाइट को अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। उनके लिंक हैं:

Facebook
Instagram
YouTube

कुछ और महत्वपूर्ण लेख:

Hari Sharanam
नित्य स्तुति और प्रार्थना
Om Damodaraya Vidmahe
Rog Nashak Bishnu Mantra
Dayamaya Guru Karunamaya

Related posts

आदि शंकराचार्य रचित एक श्लोकी | Ekashloki | Ek Shloki By Adi Shankaracharya

bbkbbsr24

Jai Raghunandan Jai Siyaram Man Se Jap Le Tu Sitaram | जय रघुनंदन जय सियाराम

bbkbbsr24

जय राधा माधव जय कुंज बिहारी | Jai Radha Madhav Jai Kunj Bihari | जय गोपी जन वल्लभ जय गिरिधर हरी

bbkbbsr24