41.3 C
Bhubaneswar
April 19, 2024
Ashtakam

Shri Krishna Ashtakam | कृष्ण अष्टकम्

Credit the Video : Times Music Spiritual YouTube Channel

Shri Krishna Ashtakam

Vasudeva Sutam Devam Kamsa Chaanoora Mardhanam |
Devaki Paramaanandam Krishnam Vande Jagatgurum ||

Atasee Pushpa Sankaasham Haara Noopura Shobhitam |
Rathna Kangana Keyooram Krishnam Vande Jagatgurum ||

Kutilaalaka Samyuktam Poorna Chandra Nibhaananam |
Vilasat Kundala Taram Krishnam Vande Jagatgurum ||

Mandaara Gandha Samyuktam Chaaruhaasam Chaturbhujam |
Barhipinchhaava Choodaangam Krishnam Vande Jagatgurum ||

Utphulla Padma Patraaksham Neelajimuta Sannibham |
Yaadavaanaam Shiroratnam Krishnam Vande Jagatgurum ||

Rukmini Keli Samyuktam, Peetambara Sushobhitam |
Avaapta Tulasi Gandham, Krishnam Vande Jagatgurum ||

Gopikaanaam Kuchaadvandva Kunkumaankita Vakshasam |
Shriniketham Maheshvaasam Krishnam Vande Jagatgurum ||

Shrivatsaankam, Mahoraskam, Vanamaala Viraajitam |
Shankha-Chakra-Dharam Devam, Krishnam Vande Jagatgurum ||

Krishnaashtakam Idam Punyam Praata Ruththaaya Yaha Padeth |
Koti Janma Krutam Paapam Smaranena Vinashyati ||

॥ Iti Shri Krishnaashtakam Sampurnam ॥

कृष्ण अष्टकम्

वसुदेव सुतं देवं कंस चाणूर मर्दनम् ।
देवकी परमानंदं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥
अतसी पुष्प संकाशं हार नूपुर शोभितम् ।
रत्न कंकण केयूरं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥

कुटिलालक संयुक्तं पूर्णचंद्र निभाननम् ।
विलसत् कुंडलधरं कृष्णं वंदे जगद्गुरम् ॥

मंदार गंध संयुक्तं चारुहासं चतुर्भुजम् ।
बर्हि पिंछाव चूडांगं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥

उत्फुल्ल पद्मपत्राक्षं नील जीमूत सन्निभम् ।
यादवानां शिरोरत्नं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥

रुक्मिणी केलि संयुक्तं पीतांबर सुशोभितम् ।
अवाप्त तुलसी गंधं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥

गोपिकानां कुचद्वंद कुंकुमांकित वक्षसम् ।
श्रीनिकेतं महेष्वासं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥

श्रीवत्सांकं महोरस्कं वनमाला विराजितम् ।
शंखचक्र धरं देवं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥

कृष्णाष्टक मिदं पुण्यं प्रातरुत्थाय यः पठेत् ।
कोटिजन्म कृतं पापं स्मरणेन विनश्यति ॥

॥ इति श्री कृष्ण अष्टकम् भातमम् ॥

କୃଷ୍ଣାଷ୍ଟକମ୍

ବସୁଦେବ ସୁତଂ ଦେବଂ କଂସ ଚାଣୂର ମର୍ଦନମ୍ |
ଦେବକୀ ପରମାନନ୍ଦଂ କୃଷ୍ଣଂ ବନ୍ଦେ ଜଗଦ୍ଗୁରୁମ୍ ||

ଅତସୀ ପୁଷ୍ପ ସଙ୍କାଶଂ ହାର ନୂପୁର ଶୋଭିତମ୍ |
ରତ୍ନ କଙ୍କଣ କେୟୂରଂ କୃଷ୍ଣଂ ବନ୍ଦେ ଜଗଦ୍ଗୁରୁମ୍ ||

କୁଟିଲାଲକ ସଂୟୁକ୍ତଂ ପୂର୍ଣଚଂଦ୍ର ନିଭାନନମ୍ |
ବିଲସତ କୁଂଡଲଧରଂ କୃଷ୍ଣଂ ବନ୍ଦେ ଜଗଦ୍ଗୁରୁମ୍ ||

ମଂଦାର ଗଂଧ ସଂୟୁକ୍ତଂ ଚାରୁହାସଂ ଚତୁର୍ଭୁଜମ୍ |
ବର୍ହି ପିଂଛାବ ଚୂଡାଙ୍ଗଂ କୃଷ୍ଣଂ ବନ୍ଦେ ଜଗଦ୍ଗୁରୁମ୍ ||

ଉତ୍ଫୁଲ୍ଲ ପଦ୍ମପତ୍ରାକ୍ଷଂ ନୀଲ ଜୀମୂତ ସନ୍ନିଭମ୍ |
ୟାଦବାନାଂ ଶିରୋରତ୍ନଂ କୃଷ୍ଣଂ ବନ୍ଦେ ଜଗଦ୍ଗୁରୁମ୍ ||

ରୁକ୍ମିଣୀ କେଳି ସଂୟୁକ୍ତଂ ପୀତାଂବର ସୁଶୋଭିତମ୍ |
ଅବାପ୍ତ ତୁଲସୀ ଗଂଧଂ କୃଷ୍ଣଂ ବନ୍ଦେ ଜଗଦ୍ଗୁରୁମ୍ ||

ଗୋପିକାନାଂ କୁଚଦ୍ଵଂଦ କୁଂକୁମାଙ୍କିତ ବକ୍ଷସମ୍ |
ଶ୍ରୀନିକେତଂ ମହେଷ୍ଵାସଂ କୃଷ୍ଣଂ ବନ୍ଦେ ଜଗଦ୍ଗୁରୁମ୍ ||

ଶ୍ରୀବତ୍ସାଙ୍କଂ ମହୋରସ୍କଂ ବନମାଲା ବିରାଜିତମ୍ |
ଶଙ୍ଖଚକ୍ର ଧରଂ ଦେବଂ କୃଷ୍ଣଂ ବନ୍ଦେ ଜଗଦ୍ଗୁରୁମ୍ ||

କୃଷ୍ଣାଷ୍ଟକ ମିଦଂ ପୁଣ୍ୟଂ ପ୍ରାତରୁତ୍ଥାୟ ୟଃ ପଠେତ୍ |
କୋଟିଜନ୍ମ କୃତଂ ପାପଂ ସ୍ମରଣେନ ବିନଶ୍ୟତି ||

॥ ଇତି ଶ୍ରୀ କୃଷ୍ଣାଷ୍ଟକମ୍ ସମ୍ପୂର୍ଣ୍ଣମ୍ ॥

Shri Krishna Ashtakam Lyrics in Bengali

কৃষ্ণা আশকম

বসুদেব সুতং দেবং কংস চাণূর মর্দনম |
দেবকী পরমানন্দং কৃষ্ণং বন্দে জগদ্গুরুম ||
অতসী পুষ্প সঙ্কাশং হার নূপুর শোভিতম |
রত্ন কঙ্কণ কেয়ূরং কৃষ্ণং বন্দে জগদ্গুরুম ||

কুটিলালক সংয়ুক্তং পূর্ণচংদ্র নিভাননম |
বিলসত কুংডলধরং কৃষ্ণং বন্দে জগদ্গুরম ||

মংদার গংধ সংয়ুক্তং চারুহাসং চতুর্ভুজম |
বর্হি পিংছাব চূডাঙ্গং কৃষ্ণং বন্দে জগদ্গুরুম ||

উত্ফুল্ল পদ্মপত্রাক্ষং নীল জীমূত সন্নিভম |
য়াদবানাং শিরোরত্নং কৃষ্ণং বন্দে জগদ্গুরুম ||

রুক্মিণী কেলি সংয়ুক্তং পীতাংবর সুশোভিতম |
অবাপ্ত তুলসী গংধং কৃষ্ণং বন্দে জগদ্গুরুম ||

গোপিকানাং কুচদ্বংদ কুংকুমাঙ্কিত বক্ষসম |
শ্রীনিকেতং মহেষ্বাসং কৃষ্ণং বন্দে জগদ্গুরুম ||

শ্রীবত্সাঙ্কং মহোরস্কং বনমালা বিরাজিতম |
শঙ্খচক্র ধরং দেবং কৃষ্ণং বন্দে জগদ্গুরুম ||

কৃষ্ণাষ্টক মিদং পুণ্য়ং প্রাতরুত্থায় য়ঃ পঠেত |
কোটিজন্ম কৃতং পাপং স্মরণেন বিনশ্য়তি ||

॥ ইতি শ্রী কৃষ্ণ অষ্টকম ভতমম ॥

Credit the Video : Strumm Spiritual by P.Unnikrishnan, Rakshita, Haripriya & Anu YouTube Channel

इसे भी पढ़े : समस्त कष्टों से मुक्ति के लिए ॐ कृष्णाय वासुदेवाय मंत्र

Disclaimer : Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी की आस्था को ठेस पहुंचना नहीं चाहता। ऊपर पोस्ट में दिए गए उपाय, रचना और जानकारी को भिन्न – भिन्न लोगों की मान्यता और जानकारियों के अनुसार, और इंटरनेट पर मौजूदा जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़कर, और शोधन कर लिखा गया है। यहां यह बताना जरूरी है कि (https://bhaktibharatki.com/) किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पूर्ण रूप से पुष्टि नहीं करता। कृष्ण अष्टकम् के उच्चारण, किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ, ज्योतिष अथवा पंड़ित की सलाह अवश्य लें। कृष्ण अष्टकम् का उच्चारण करना या ना करना आपके विवेक पर निर्भर करता है।

इसे भी पढ़े : भजगोविन्दं भजगोविन्दं गोविन्दं भज मूढमते

हमारे बारें में : आपको Bhakti Bharat Ki पर हार्दिक अभिनन्दन। दोस्तों नमस्कार, यहाँ पर आपको हर दिन भक्ति का वीडियो और लेख मिलेगी, जो आपके जीवन में अदुतीय बदलाव लाएगी। आप इस चैनल के माध्यम से ईश्वर के उपासना करना (जैसे कि पूजा, प्रार्थना, भजन), भगवान के प्रति भक्ति करना (जैसे कि ध्यान), गुरु के चरणों में शरण लेना (जैसे कि शरणागति), अच्छे काम करना, दूसरों की मदद करना, और अपने स्वभाव को सुधारकर, आत्मा को ऊंचाईयों तक पहुंचाना ए सब सिख सकते हैं। भक्ति भारत की एक आध्यात्मिक वेबसाइट, जिसको देखकर आप अपने मन को शुद्ध करके, अध्यात्मिक उन्नति के साथ, जीवन में शांति, समृद्धि, और संतुष्टि की भावना को प्राप्त कर सकते। आप इन सभी लेख से ईश्वर की दिव्य अनुभूति पा सकते हैं। तो बने रहिये हमारे साथ:

इसे भी पढ़े : ओम का अर्थ, उत्पत्ति, महत्व, उच्चारण, जप करने का तरीका और चमत्कार

बैकलिंक : यदि आप ब्लॉगर हैं, अपनी वेबसाइट के लिए डू-फॉलों लिंक की तलाश में हैं, तो एक बार संपर्क जरूर करें। हमारा वाट्सएप नंबर हैं 9438098189.

विनम्र निवेदन : यदि कोई त्रुटि हो तो आप हमें यहाँ क्लिक करके E-mail (ई मेल) के माध्यम से भी सम्पर्क कर सकते हैं। धन्यवाद।

सोशल मीडिया : यदि आप भक्ति विषयों के बारे में प्रतिदिन कुछ ना कुछ जानना चाहते हैं, तो आपको Bhakti Bharat Ki संस्था के विभिन्न सोशल मीडिया खातों से जुड़ना चाहिए। इस ज्ञानवर्धक वेबसाइट को अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। उनके लिंक हैं:

Facebook
Instagram
YouTube

कुछ और महत्वपूर्ण लेख:

Om Damodaraya Vidmahe
Om Sarve Bhavantu Sukhinah
Rog Nashak Bishnu Mantra
Dayamaya Guru Karunamaya
Black Tara Mantra
White Tara Mantra
Yellow Tara Mantra
Hari Sharanam
नित्य स्तुति और प्रार्थना
Blue Tara Mantra

Related posts

Sri Narasimha Ashtakam Lyrics in English – Bhakti Bharat Ki

bbkbbsr24

Ranganatha Ashtakam Lyrics in English – Bhakti Bharat Ki

bbkbbsr24

Rudrashtakam | त्वरित फलदायी श्री शिव रुद्राष्टकम का पाठ

bbkbbsr24