31.1 C
Bhubaneswar
May 28, 2024
Ashtakam

Yugalashtakam | श्री युगलाष्टकम्

Credit the Video: Madhvi Madhukar by Madhvi Madhukar Jha YouTube Channel

Yugalashtakam | श्री युगलाष्टकम् : दोस्तों नमस्कार, आज हम आप लोगों को इस पोस्ट के माध्यम से श्री युगलाष्टकम् के बारे में बताएँगे। आदि शंकराचार्य द्वारा रचित दिव्य युगल श्री राधा और श्री कृष्ण को पूर्ण प्रेम और भक्ति के अवतार के रूप में वर्णित किया गया है। वह उनकी सुंदरता, अनुग्रह और उनके बीच मौजूद गहन प्रेम की प्रशंसा करता है।  यह कुछ छंदों में राधा और कृष्ण की शारीरिक सुंदरता, उनकी लीलाओं और उनके संबंधों की अंतरंग प्रकृति का वर्णन शामिल है। कविता यह भी वर्णन करती है कि राधा और कृष्ण एक हैं, फिर भी अलग हैं, और वे सभी आध्यात्मिक साधकों का अंतिम लक्ष्य हैं। तो आइये सुमिरन करते हैं श्री युगलाष्टकम्:

Yugalashtakam

Yugal Ashtakam

Krishna-Prema-Mayi Radha
Radha Prema-Mayo Harih
Jeevanen Dhane Nityam
Radha-Krishnau Gatir Mama ॥1॥

Krishnasya Dravinam Radha
Radhaya Dravinam Harih
Jeevanen Dhane Nityam
Radha-Krishnau Gatir Mama ॥2॥

Krishna-Prana-Mayi Radha
Radha-Prana-Mayo Harih
Jeevanen Dhane Nityam
Radha-Krishnau Gatir Mama ॥3॥

Krishna-Drava-Mayi Radha
Radha-Drava-Mayo Harih
Jeevanen Dhane Nityam
Radha-Krishnau Gatir Mama ॥4॥

Krishna-Gehe Sthita Radha
Radha-Gehe Sthito Harih
Jeevanen Dhane Nityam
Radha-Krishnau Gatir Mama ॥5॥

Krishna-Citta-Sthita Radha
Radha-Citta-Sthito Harih
Jeevanen Dhane Nityam
Radha-Krishnau Gatir Mama ॥6॥

Nilambara-Dhara Radha
Pitambara-Dharo Harih
Jeevanen Dhane Nityam
Radha-Krishnau Gatir Mama ॥7॥

Vrindavaneshvari Radha
Krishno Vrindavaneshvarah
Jeevanen Dhane Nityam
Radha-Krishnau Gatir Mama ॥8॥

श्री युगलाष्टकम्

कृष्णप्रेममयी राधा राधाप्रेममयो हरिः ।
जीवनेन धने नित्यं राधाकृष्णगतिर्मम ॥१॥

कृष्णस्य द्रविणं राधा राधायाः द्रविणं हरिः ।
जीवनेन धने नित्यं राधाकृष्णगतिर्मम ॥२॥

कृष्णप्राणमयी राधा राधाप्राणमयो हरिः ।
जीवनेन धने नित्यं राधाकृष्णगतिर्मम ॥३॥

कृष्णद्रवामयी राधा राधाद्रवामयो हरिः ।
जीवनेन धने नित्यं राधाकृष्णगतिर्मम ॥४॥

कृष्ण गेहे स्थिता राधा राधा गेहे स्थितो हरिः ।
जीवनेन धने नित्यं राधाकृष्णगतिर्मम ॥५॥

कृष्णचित्तस्थिता राधा राधाचित्स्थितो हरिः ।
जीवनेन धने नित्यं राधाकृष्णगतिर्मम ॥६॥

नीलाम्बरा धरा राधा पीताम्बरो धरो हरिः ।
जीवनेन धने नित्यं राधाकृष्णगतिर्मम ॥७॥

वृन्दावनेश्वरी राधा कृष्णो वृन्दावनेश्वरः ।
जीवनेन धने नित्यं राधाकृष्णगतिर्मम ॥८॥

Credit the Video: Rakesh Kumar Spiritual YouTube Channel

इसे भी पढ़े : समस्त कष्टों से मुक्ति के लिए ॐ कृष्णाय वासुदेवाय मंत्र

Disclaimer : Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी की आस्था को ठेस पहुंचना नहीं चाहता। ऊपर पोस्ट में दिए गए उपाय, रचना और जानकारी को भिन्न – भिन्न लोगों की मान्यता और जानकारियों के अनुसार, और इंटरनेट पर मौजूदा जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़कर, और शोधन कर लिखा गया है। यहां यह बताना जरूरी है कि Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पूर्ण रूप से पुष्टि नहीं करता। श्री युगलाष्टकम् के उच्चारण, किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ, ज्योतिष अथवा पंड़ित की सलाह अवश्य लें। श्री युगलाष्टकम् का उच्चारण करना या ना करना आपके विवेक पर निर्भर करता है।

इसे भी पढ़े : ओम का अर्थ, उत्पत्ति, महत्व, उच्चारण, जप करने का तरीका और चमत्कार

हमारे बारें में : आपको Bhakti Bharat Ki पर हार्दिक अभिनन्दन। दोस्तों नमस्कार, यहाँ पर आपको हर दिन भक्ति का वीडियो और लेख मिलेगी, जो आपके जीवन में अदुतीय बदलाव लाएगी। आप इस चैनल के माध्यम से ईश्वर के उपासना करना (जैसे कि पूजा, प्रार्थना, भजन), भगवान के प्रति भक्ति करना (जैसे कि ध्यान), गुरु के चरणों में शरण लेना (जैसे कि शरणागति), अच्छे काम करना, दूसरों की मदद करना, और अपने स्वभाव को सुधारकर, आत्मा को ऊंचाईयों तक पहुंचाना ए सब सिख सकते हैं। भक्ति भारत की एक आध्यात्मिक वेबसाइट, जिसको देखकर आप अपने मन को शुद्ध करके, अध्यात्मिक उन्नति के साथ, जीवन में शांति, समृद्धि, और संतुष्टि की भावना को प्राप्त कर सकते। आप इन सभी लेख से ईश्वर की दिव्य अनुभूति पा सकते हैं। तो बने रहिये हमारे साथ:

बैकलिंक : यदि आप ब्लॉगर हैं, अपनी वेबसाइट के लिए डू-फॉलों लिंक की तलाश में हैं, तो एक बार संपर्क जरूर करें। हमारा वाट्सएप नंबर हैं 9438098189.

विनम्र निवेदन : यदि कोई त्रुटि हो तो आप हमें यहाँ क्लिक करके E-mail (ई मेल) के माध्यम से भी सम्पर्क कर सकते हैं। धन्यवाद।

सोशल मीडिया : यदि आप भक्ति विषयों के बारे में प्रतिदिन कुछ ना कुछ जानना चाहते हैं, तो आपको Bhakti Bharat Ki संस्था के विभिन्न सोशल मीडिया खातों से जुड़ना चाहिए। इस ज्ञानवर्धक वेबसाइट को अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। उनके लिंक हैं:

Facebook
Instagram
YouTube

कुछ और महत्वपूर्ण लेख:

Om Damodaraya Vidmahe
Om Sarve Bhavantu Sukhinah
Rog Nashak Bishnu Mantra
Dayamaya Guru Karunamaya
Black Tara Mantra
White Tara Mantra
Yellow Tara Mantra
Hari Sharanam
नित्य स्तुति और प्रार्थना
Blue Tara Mantra

Related posts

Bimala Ashtakam | ବିମଳା ଅଷ୍ଟକମ୍

bbkbbsr24

Vaidyanatha Ashtakam | वैद्यनाथ अष्टकम्

bbkbbsr24

Annapurna Ashtakam | Goddess Annapoorneshwari Lyrics in English – Bhakti Bharat Ki

bbkbbsr24