38.1 C
Bhubaneswar
April 20, 2024
Bhajan

Ram Siya Ram : Mangal Bhavan Amangal Hari | राम सिया राम : मंगल भवन अमंगल हारी

Credit the Video: T-Series YouTube Channel

Song Title Ram Siya Ram  (राम सिया राम)
Lyrics Shabbir Ahmed
Music Poonam Thakkar
Singer Sachet Tandon
Music Label T-Series

Ram Siya Ram : Mangal Bhavan Amangal Hari | राम सिया राम : मंगल भवन अमंगल हारी: दोस्तों नमस्कार, आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से राम सिया राम के बारे में बताने वाले हैं। यह भजन “मंगल भवन अमंगल हारी” जो व्यक्ति को भगवान राम और सीता माता की आराधना करने के लिए प्रेरित करता है।

इस भजन के शब्द रामायण के चौपाई छंद में लिखे गए हैं। इस भजन में भगवान राम के गुणों, चरित्र, पुण्य कथा, दयालुता और महानता की महिमा इस भजन में गाई गई है। राम नाम की महिमा भक्तों को भगवान के प्रति श्रद्धा और आध्यात्मिकता बढ़ाने में मदद करता है।

राम सिया राम : मंगल भवन अमंगल हारी

कौशल्या, दशरथ के नंदन
राम ललाट पे शोभित चन्दन
रघुपति की जय बोले लक्ष्मण
राम सिया का हो अभिनन्दन

अंजनी पुत्र पड़े हैं चरण में
राम सिया जपते तन मन में

मंगल भवन अमंगल हारी
द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी

राम सिया राम सिया राम
जय जय राम
राम सिया राम सिया राम
जय जय राम
राम सिया राम सिया राम
जय जय राम
राम सिया राम सिया राम
जय जय राम

मेरे तन मन धड़कन में
सिया राम राम है
मन मंदिर के दर्पण में
सिया राम राम है

तू ही सिया का राम
राधा का तू ही श्याम
जन्मो जनम का ही ये साथ है

मीरा का तू भजन
भजते हरी पवन
तुलसी में भी लिखी ये बात है

मंगल भवन अमंगल हारी
द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी

राम सिया राम सिया राम
जय जय राम
राम सिया राम सिया राम
जय जय राम
राम सिया राम सिया राम
जय जय राम
राम सिया राम सिया राम
जय जय राम

मंगल भवन अमंगल हारी
मंगल भवन अमंगल हारी
द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी

राम सिया राम सिया राम
जय जय राम
राम सिया राम सिया राम
जय जय राम
राम सिया राम सिया राम
जय जय राम
राम सिया राम सिया राम
जय जय राम

Ram Siya Ram : Mangal Bhavan Amangal Hari

Kausalya Dashrath Ke Nandan
Ram Lalat Pe Sobhit Chandan
Raghupati Ki Jai Bole Laxman
Ram Siya Ka Ho Abhinandan

Anjaniputra Pade Hai Charan Mein
Ramsiya Japate Tanmann Mein

Mangal Bhavan Amangal Hari
Dravahu Sudashrath Ajar Bihari

Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram
Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram
Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram
Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram

Mere Tan Mann Dhadkan Mein
Siya Ram Ram Hai
Man Mandir Ke Darpan Mein
Siya Ram Ram Hai

Tu Hi Siya Ka Ram
Radha Ka Tu Hi Shyam
Janamo Janam Ka Hi Ye Sath Hai

Mira Ka Tu Bhajan
Bhajate Hari Pavan
Tulsi Ne Bhi Likhi Ye Baat Hai

Mangal Bhavan Amangal Hari
Dravahu Sudashrath Ajar Bihari

Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram
Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram
Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram
Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram

Mangal Bhavan Amangal Hari
Mangal Bhavan Amangal Hari
Dravahu Sudashrath Ajar Bihari

Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram
Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram
Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram
Ram Siya Ram Siya Ram Jai Jai Ram

इसे भी पढ़े : समस्त कष्टों से मुक्ति के लिए ॐ कृष्णाय वासुदेवाय मंत्र

Disclaimer : Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी की आस्था को ठेस पहुंचना नहीं चाहता। ऊपर पोस्ट में दिए गए उपाय, रचना और जानकारी को भिन्न – भिन्न लोगों की मान्यता और जानकारियों के अनुसार, और इंटरनेट पर मौजूदा जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़कर, और शोधन कर लिखा गया है। यहां यह बताना जरूरी है कि (https://bhaktibharatki.com/) किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पूर्ण रूप से पुष्टि नहीं करता। राम सिया राम : मंगल भवन अमंगल हारी का अर्थ और महत्व को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ, ज्योतिष अथवा पंड़ित की सलाह अवश्य लें। राम सिया राम : मंगल भवन अमंगल हारी का उच्चारण करना या ना करना आपके विवेक पर निर्भर करता है।

इसे भी पढ़े : ओम का अर्थ, उत्पत्ति, महत्व, उच्चारण, जप करने का तरीका और चमत्कार

हमारे बारें में : आपको Bhakti Bharat Ki पर हार्दिक अभिनन्दन। दोस्तों नमस्कार, यहाँ पर आपको हर दिन भक्ति का वीडियो और लेख मिलेगी, जो आपके जीवन में अदुतीय बदलाव लाएगी। आप इस चैनल के माध्यम से ईश्वर के उपासना करना (जैसे कि पूजा, प्रार्थना, भजन), भगवान के प्रति भक्ति करना (जैसे कि ध्यान), गुरु के चरणों में शरण लेना (जैसे कि शरणागति), अच्छे काम करना, दूसरों की मदद करना, और अपने स्वभाव को सुधारकर, आत्मा को ऊंचाईयों तक पहुंचाना ए सब सिख सकते हैं। भक्ति भारत की एक आध्यात्मिक वेबसाइट, जिसको देखकर आप अपने मन को शुद्ध करके, अध्यात्मिक उन्नति के साथ, जीवन में शांति, समृद्धि, और संतुष्टि की भावना को प्राप्त कर सकते। आप इन सभी लेख से ईश्वर की दिव्य अनुभूति पा सकते हैं। तो बने रहिये हमारे साथ:

इसे भी पढ़े : सांस लेने और छोड़ने की क्रिया से मन स्थिर हो जाता है

बैकलिंक : यदि आप ब्लॉगर हैं, अपनी वेबसाइट के लिए डू-फॉलों लिंक की तलाश में हैं, तो एक बार संपर्क जरूर करें। हमारा वाट्सएप नंबर हैं 9438098189.

विनम्र निवेदन : यदि कोई त्रुटि हो तो आप हमें यहाँ क्लिक करके E-mail (ई मेल) के माध्यम से भी सम्पर्क कर सकते हैं। धन्यवाद।

सोशल मीडिया : यदि आप भक्ति विषयों के बारे में प्रतिदिन कुछ ना कुछ जानना चाहते हैं, तो आपको Bhakti Bharat Ki संस्था के विभिन्न सोशल मीडिया खातों से जुड़ना चाहिए। इस ज्ञानवर्धक वेबसाइट को अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। उनके लिंक हैं:

Facebook
Instagram
YouTube

कुछ और महत्वपूर्ण लेख:

Ram Ko Dekh Kar Janak Nandani
नित्य स्तुति और प्रार्थना
Om Damodaraya Vidmahe
Rog Nashak Bishnu Mantra
Ram Gayatri Mantra
Dayamaya Guru Karunamaya

 

Related posts

Sateki A Jeeba Jiba Lyrics | ସତେ କି ଏ ଜୀବ ଯିବ ବୃନ୍ଦାବନେ ଯାଇ ସ୍ଥାନ ପାଇବ

bbkbbsr24

Atma Rama Ananda Ramana – Rama Bhajan | Aatma Rama Ananda Ramana

bbkbbsr24

Shubham Karoti Kalyanam | शुभम् करोति कल्याणम्

bbkbbsr24