42.1 C
Bhubaneswar
April 19, 2024
Stotram

Sri Venkateswara Stotram | श्री वेंकटेश्वर स्तोत्रम् | श्री वेङ्कटेश स्तोत्र

Credit the Video : ISKCON Bangalore YouTube Channel

Sri Venkateswara Stotram | श्री वेंकटेश्वर स्तोत्रम् | श्री वेङ्कटेश स्तोत्र: दोस्तों नमस्कार, आज हम आप लोगों को इस पोस्ट के माध्यम से श्री वेंकटेश्वर स्तोत्रम् के बारे में बताएँगे। तो आइये सुमिरन करते हैं श्री वेंकटेश्वर स्तोत्रम्:

Sri Venkateswara Stotram

Kamalakucha Chuchuka Kukumatho
Niyatha Runitha Thulanilathano ।
Kamalayatha Lochana lokapathe
Vijayebava Venkata Shilapathe ॥ 1 ॥

Sachaturmuka Shanmuka Panchamuka
Pramukakila Divatha Moulimane ।
Sharanagatha Vatsala Saranide
Paripalayamam Vrusha Shilapathe ॥ 2 ॥

Athivelathaya Thava Druvishahi
Ranuvelakruthir Aparadha Shathi ।
Bharitham Tvaritham Vrusha Shilapathe
Paraya Krupayaa Paripahi Hare ॥ 3 ॥

Aadivenkata Shila Mudaramathe
Janathabi Mathadikada naratat ।
Paradevataya Gaditha Nimagnami
Kamala daeithanna Paramkalaye ॥ 4 ॥

Kalavenu Ravavasha Gopavadhu
Shathakoti vrutha tsmarakoti Samat ।
Prathivalla vikabhimata Tsukadat
Vasudevasutha Naparam kalaye ॥ 5 ॥

Abhi Ramagunakara Dasharathe
Jagadeka Dhanudhara Dhiramathe ।
Raghu nayaka Rama Ramesha Vibho
Varado Bhava Deva Dayajalade ॥ 6 ॥

Aavanithanaya Kamaniya karam
Rajani Karacharu Mukamburuham ।
Rajani Chararaja Thamomihiram
Mahaniya Maham Raghurama Maye ॥ 7 ॥

Sumukam Suhrudayam Sulabham Sukadam
Swanujam cha Sukaya Mamogha Sharam ।
Aapahaya Raghudvaha Manyamaham
Na Kathamchana Kanchana Jathu Bhaje ॥ 8 ॥

Vina Venkatesham Na Nathona Natha
Sada Venkatesham Smarami Smarami ।
Hare Venkatesha Praseda Praseda
Priyam Venkatesha Prayacha Prayacha ॥ 9 ॥

Aaham Durutha ste Padambhoja Yugma
Pranamechaya Gatya Sevaam karomi ।
Sakrutsevaya Nityaseva Phalatvam
Prayacha Prayacha Prabho Venkatesha ॥ 10 ॥

Aagnanina Maya Dosha
Nashesha Nihithan Hare ।
Kshmasva tvam Kshmasva tvam
Sheshashila Shikamane ॥ 11 ॥

॥ Iti Sri Venkatesha Stotram ॥

श्री वेंकटेश्वर स्तोत्रम् | श्री वेङ्कटेश स्तोत्र

कमला कुचचूचुक कुङ्कुमतो
नियतारुणितातुलनीलतनो ।
कमलायतलोचन लोकपते
विजयी भव वेङ्कटशैलपते ॥१॥

सचतुर्मुखषण्मुखपञ्चमुख
प्रमुखाखिलदैवतमौलिमणे ।
शरणागतवत्सल सारनिधे
परिपालय मां वृषशैलपते ॥२॥

अतिवेलतया तव दुर्विषहै
रनुवेलकृतैरपराधशतैः ।
भरितं त्वरितं वृषशैलपते
परया कृपया परिपाहि हरे ॥३॥

अधिवेङ्कटशैलमुदारमते
र्जनताभिमताधिकदानरतात् ।
परदेवतयागदितान्निगमैः
कमलादयितान्न परं कलये ॥४॥

कलवेणुरवावशगोपवधू
शतकोटियुतात्स्मरकोटिसमात् ।
प्रतिवल्लविकाभिमतात्सुखदात्
वसुदेवसुतान्न परं कलये ॥५॥

अभिरामगुणाकर दाशरथे
जगदेकधनुर्धर धीरमते ।
रघुनायक राम रमेश विभो
वरदो भव देव दयाजलधे ॥६॥

अवनीतनया कमनीयकरं
रजनीकरचारुमुखांबुरुहम् ।
रजनीचरराजतमोमिहिरं
महनीयमहं रघुराममये ॥७॥

सुमुखं सुहृदं सुलभं सुखदं
स्वनुजं च सुकायममोघशरम् ।
अपहाय रघूद्वहमन्यमहं
न कथञ्चन कञ्चन जातु भजे ॥८॥

विना वेङ्कटेशं न नाथो न नाथः
सदा वेङ्कटेशं स्मरामि स्मरामि ।
हरे वेङ्कटेश प्रसीद प्रसीद
प्रियं वेङ्कटेश प्रयच्छ प्रयच्छ ॥९॥

अहं दूरतस्ते पदांभोजयुग्म-
प्रणामेच्छयाऽऽगत्य सेवां करोमि ।
सकृत्सेवया नित्यसेवाफलं त्वं
प्रयच्छ प्रयच्छ प्रभो वेङ्कटेश ॥१०॥

अज्ञानिना मया दोषानशेषान्विहितान् हरे ।
क्षमस्व त्वं क्षमस्व त्वं शेषशैलशिखामणे ॥११॥

॥ इति श्री वेङ्कटेश स्तोत्र ॥

इसे भी पढ़े : समस्त कष्टों से मुक्ति के लिए ॐ कृष्णाय वासुदेवाय मंत्र

Disclaimer : Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी की आस्था को ठेस पहुंचना नहीं चाहता। ऊपर पोस्ट में दिए गए उपाय, रचना और जानकारी को भिन्न – भिन्न लोगों की मान्यता और जानकारियों के अनुसार, और इंटरनेट पर मौजूदा जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़कर, और शोधन कर लिखा गया है। यहां यह बताना जरूरी है कि Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पूर्ण रूप से पुष्टि नहीं करता। श्री वेंकटेश्वर स्तोत्रम् के उच्चारण, किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ, ज्योतिष अथवा पंड़ित की सलाह अवश्य लें। श्री वेंकटेश्वर स्तोत्रम् का उच्चारण करना या ना करना आपके विवेक पर निर्भर करता है।

इसे भी पढ़े : ओम का अर्थ, उत्पत्ति, महत्व, उच्चारण, जप करने का तरीका और चमत्कार

हमारे बारें में : आपको Bhakti Bharat Ki पर हार्दिक अभिनन्दन। दोस्तों नमस्कार, यहाँ पर आपको हर दिन भक्ति का वीडियो और लेख मिलेगी, जो आपके जीवन में अदुतीय बदलाव लाएगी। आप इस चैनल के माध्यम से ईश्वर के उपासना करना (जैसे कि पूजा, प्रार्थना, भजन), भगवान के प्रति भक्ति करना (जैसे कि ध्यान), गुरु के चरणों में शरण लेना (जैसे कि शरणागति), अच्छे काम करना, दूसरों की मदद करना, और अपने स्वभाव को सुधारकर, आत्मा को ऊंचाईयों तक पहुंचाना ए सब सिख सकते हैं। भक्ति भारत की एक आध्यात्मिक वेबसाइट, जिसको देखकर आप अपने मन को शुद्ध करके, अध्यात्मिक उन्नति के साथ, जीवन में शांति, समृद्धि, और संतुष्टि की भावना को प्राप्त कर सकते। आप इन सभी लेख से ईश्वर की दिव्य अनुभूति पा सकते हैं। तो बने रहिये हमारे साथ:

बैकलिंक : यदि आप ब्लॉगर हैं, अपनी वेबसाइट के लिए डू-फॉलों लिंक की तलाश में हैं, तो एक बार संपर्क जरूर करें। हमारा वाट्सएप नंबर हैं 9438098189.

विनम्र निवेदन : यदि कोई त्रुटि हो तो आप हमें यहाँ क्लिक करके E-mail (ई मेल) के माध्यम से भी सम्पर्क कर सकते हैं। धन्यवाद।

सोशल मीडिया : यदि आप भक्ति विषयों के बारे में प्रतिदिन कुछ ना कुछ जानना चाहते हैं, तो आपको Bhakti Bharat Ki संस्था के विभिन्न सोशल मीडिया खातों से जुड़ना चाहिए। इस ज्ञानवर्धक वेबसाइट को अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। उनके लिंक हैं:

Facebook
Instagram
YouTube

कुछ और महत्वपूर्ण लेख:

Om Damodaraya Vidmahe
Om Sarve Bhavantu Sukhinah
Rog Nashak Bishnu Mantra
Dayamaya Guru Karunamaya
Black Tara Mantra
White Tara Mantra
Yellow Tara Mantra
Hari Sharanam
नित्य स्तुति और प्रार्थना
Blue Tara Mantra

Related posts

Jai Ganesha Paahimam | जय गणेश पाहिमाम | श्री गणेश रक्षा स्त्रोतम | Shree Ganesh Raksha Stotram

bbkbbsr24

Vishvambhari Stuti | माँ विश्वम्भरी स्तुति | વિશ્વંભરી સ્તુતિ

Bimal Kumar Dash

Shivaya Parameshwaraya | शिवाय परमेश्वराय

Bimal Kumar Dash