38.1 C
Bhubaneswar
April 20, 2024
Stotram

Marg Bandhu Stotra | श्री मार्गबन्धु स्तोत्र | यात्रा से पहले मार्गबन्धु स्तोत्रम् का करें पाठ

Credit the Video: Giri Bhakti By T S Ranganathan YouTube Channel

Marg Bandhu Stotra | यात्रा से पहले मार्गबन्धु स्तोत्रम् का करें पाठ: दोस्तों नमस्कार, आज हम आप लोगों को इस पोस्ट के माध्यम से मार्गबन्धु स्तोत्रम् के बारे में बताएँगे। मार्ग बंधु स्तोत्र अप्पय्या दीक्षिता द्वारा लिखा गया था। जो लोग कोई भी यात्रा करते हैं उन्हें यात्रा से पहले, यात्रा के दिन और यात्रा समाप्त होने के बाद मार्गबन्धु स्तोत्रम् पाठ जरूर करना चाहिए। यात्रा के दौरान सुरक्षा और उसकी सफलता के लिए प्रार्थना करने से भगवान शिव शीघ्र प्रसन्न होते हैं। मार्गबंधु के रूप में भगवान शिव सदैव उनके साथ रहेंते और उनकी रक्षा करते हैं। तो आइये सुमिरन करते हैं मार्गबन्धु स्तोत्रम्:

Marg Bandhu Stotra

Shambho Maha Deva Deva, Shiva
Shambho Maha Deva Devesa Shambho,
Shambho Mahadeva Deva ॥

Phalavanamrath Kireetam,
Phala Nethrachisha, Dagdha Pancheshu Keetam,
Soolahathaaraathikootam, Shudhamradhendu Choodam,
Bhaje Margabandhum ॥ 1 ॥

Ange Virjangu Jangam,
Abhra Ganga Tharangabhi Ramothamangam,
Omkaravati Kurangam, Sidha Samsevathangrivyagram,
Bhaje Margabandum ॥ 2 ॥

Nithyam, Chidanada Roopam,
Ninhutha Sesha Lokesa Vairi Prathapam,
Kartheswaragendrachapam, Krithivasam,
Bhaje Divya Sanmarga Bandhum ॥ 3 ॥

Kandarpa Darpagna Meesam,
Kala Kantam Mahesam Maha Vyoma Kesam,
Kundabhadandam Suresam, Koti Surya Prakasam,
Bhajhe Marga Bandhum ॥ 4 ॥

Mandara Bhutherydaram, Mandaragendrasaaram, Mahagouryudooram,
Sindhoora Dhoora Pracharam, Sindhoorajathi Dheeram,
Bhaje Margabandhum ॥ 5 ॥

Phala Sruthi

Appayyajjwendra Geetham Stotra Rajam,
Patedhyasthu Bhakthya Prayane,
Thasyartha Sidhim Vidathe , Marga Madhye
Abhayam Chaashuthosho Mahesa ॥ 6 ॥

यात्रा से पहले मार्गबन्धु स्तोत्रम् का करें पाठ

श्री मार्गबन्धु स्तोत्र

शम्भो महादेव देव
शिव शम्भो महादेव देवेश शम्भो
शम्भो महादेव देव ॥

फालावनम्रत्किरीटं
फालनेत्रार्चिषा दग्धपञ्चेषुकीटम् ।
शूलाहतारातिकूटं
शुद्धमर्धेन्दुचूडं भजे मार्गबन्धुम् ॥ १ ॥

अङ्गे विराजद्भुजङ्गं
अभ्रगङ्गातरङ्गाभिरामोत्तमाङ्गं
ओङ्कारवाटीकुरङ्गं
सिद्धसंसेविताङ्घ्रिं भजे मार्गबन्धुम् ॥ २ ॥

नित्यं चिदानन्दरूपं
निह्नुताशेषलोकेशवैरिप्रतापं
कार्तस्वरागेन्द्रचापं
कृत्तिवासं भजे दिव्यसन्मार्गबन्धुम् ॥ ३ ॥

कन्दर्पदर्पघ्नमीशं
कालकण्ठं महेशं महाव्योमकेशं
कुन्दाभदन्तं सुरेशं
कोटिसूर्यप्रकाशं भजे मार्गबन्धुम् ॥ ४ ॥

मन्दारभूतेरुदारं
मन्दरागेन्द्रसारं महागौर्यदूरं
सिन्दूरदूरप्रचारं
सिन्धुराजातिधीरं भजे मार्गबन्धुम् ॥ ५ ॥

फलश्रुति

अप्पय्ययज्ज्वेन्द्र गीतं
स्तोत्रराजं पठेद्यस्तु भक्त्या प्रयाणे
तस्यार्थसिद्धिं विधत्ते
मार्गमध्येऽभयं चाशुतोषो महेशः ॥ ६ ॥

॥ इति श्री मार्गबन्धु स्तोत्रम् ॥

इसे भी पढ़े : समस्त कष्टों से मुक्ति के लिए ॐ कृष्णाय वासुदेवाय मंत्र

Disclaimer : Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी की आस्था को ठेस पहुंचना नहीं चाहता। ऊपर पोस्ट में दिए गए उपाय, रचना और जानकारी को भिन्न – भिन्न लोगों की मान्यता और जानकारियों के अनुसार, और इंटरनेट पर मौजूदा जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़कर, और शोधन कर लिखा गया है। यहां यह बताना जरूरी है कि (https://bhaktibharatki.com/) किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पूर्ण रूप से पुष्टि नहीं करता। मार्गबन्धु स्तोत्रम् के उच्चारण, किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ, ज्योतिष अथवा पंड़ित की सलाह अवश्य लें। मार्गबन्धु स्तोत्रम् का उच्चारण करना या ना करना आपके विवेक पर निर्भर करता है।

इसे भी पढ़े : भजगोविन्दं भजगोविन्दं गोविन्दं भज मूढमते

हमारे बारें में : आपको Bhakti Bharat Ki पर हार्दिक अभिनन्दन। दोस्तों नमस्कार, यहाँ पर आपको हर दिन भक्ति का वीडियो और लेख मिलेगी, जो आपके जीवन में अदुतीय बदलाव लाएगी। आप इस चैनल के माध्यम से ईश्वर के उपासना करना (जैसे कि पूजा, प्रार्थना, भजन), भगवान के प्रति भक्ति करना (जैसे कि ध्यान), गुरु के चरणों में शरण लेना (जैसे कि शरणागति), अच्छे काम करना, दूसरों की मदद करना, और अपने स्वभाव को सुधारकर, आत्मा को ऊंचाईयों तक पहुंचाना ए सब सिख सकते हैं। भक्ति भारत की एक आध्यात्मिक वेबसाइट, जिसको देखकर आप अपने मन को शुद्ध करके, अध्यात्मिक उन्नति के साथ, जीवन में शांति, समृद्धि, और संतुष्टि की भावना को प्राप्त कर सकते। आप इन सभी लेख से ईश्वर की दिव्य अनुभूति पा सकते हैं। तो बने रहिये हमारे साथ:

इसे भी पढ़े : ओम का अर्थ, उत्पत्ति, महत्व, उच्चारण, जप करने का तरीका और चमत्कार

बैकलिंक : यदि आप ब्लॉगर हैं, अपनी वेबसाइट के लिए डू-फॉलों लिंक की तलाश में हैं, तो एक बार संपर्क जरूर करें। हमारा वाट्सएप नंबर हैं 9438098189.

विनम्र निवेदन : यदि कोई त्रुटि हो तो आप हमें यहाँ क्लिक करके E-mail (ई मेल) के माध्यम से भी सम्पर्क कर सकते हैं। धन्यवाद।

सोशल मीडिया : यदि आप भक्ति विषयों के बारे में प्रतिदिन कुछ ना कुछ जानना चाहते हैं, तो आपको Bhakti Bharat Ki संस्था के विभिन्न सोशल मीडिया खातों से जुड़ना चाहिए। इस ज्ञानवर्धक वेबसाइट को अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। उनके लिंक हैं:

Facebook
Instagram
YouTube

कुछ और महत्वपूर्ण लेख:

Om Damodaraya Vidmahe
Om Sarve Bhavantu Sukhinah
Rog Nashak Bishnu Mantra
Dayamaya Guru Karunamaya
Black Tara Mantra
White Tara Mantra
Yellow Tara Mantra
Hari Sharanam
नित्य स्तुति और प्रार्थना
Blue Tara Mantra

Related posts

Jai Ram Rama Ramanam Samanam | जय राम रमा रमनं समनं

bbkbbsr24

Shri Ram Stuti | श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन | श्री राम स्तुति

bbkbbsr24

Shree Maha Ganesha Pancharatnam | Shri Ganesha Pancharatnam | श्री गणेशपञ्चरत्नम् – मुदाकरात्तमोदकं

bbkbbsr24