33.1 C
Bhubaneswar
March 3, 2024
Stotram

Shree Maha Ganesha Pancharatnam | Shri Ganesha Pancharatnam | श्री गणेशपञ्चरत्नम् – मुदाकरात्तमोदकं

Shree Maha Ganesha Pancharatnam | Shri Ganesha Pancharatnam | श्री गणेशपञ्चरत्नम् – मुदाकरात्तमोदकं : श्री गणेश पंचरत्नम (Ganesha Pancha Ratnam) स्तुति में भगवान गणेश के पाँच पद और एक फलस्तुति हैं। (पंचरत्नम – पांच रत्न) (Pancharatnam means Five Jewels), इसे आदिशंकराचार्य (Adi Shankaracharya) द्वारा लिखा गया है। इसमें गणेश की गुणों और महत्व वर्णित है, जिसे गणपति पूजा (Ganpati Puja) के दौरान पाठ किया जाता है। श्री गणेश पंचरत्नम को मुद्गल पुराण में इसे स्तोत्र के रूप में दर्ज किया गया है। मुद्गल पुराण गणेश जी को समर्पित एक हिंदू धार्मिक ग्रंथ है

Shree Maha Ganesha Pancharatnam

Shree Maha Ganesha Pancharatnam

Mudakarattamodakam Sada Vimuktisadhakam
Kaladharavatansakam Vilasilokarakshakam ।
Anayakaikanayakan Vinashitebhadaityakam
Natashubhashunashakam Namami Tam Vinayakam ॥ 1 ॥

Nateratratibhakaram Navoditarkabhasvaram
Namatsurarinirjaram Natadikapadudharam ।
Sureshwaram Nidishwaram Gajeshwaram Ganeswaram
Maheshwaram Tamashraye Paratparam Nirantaram ॥ 2 ॥

Samastalokshankaram Nirvadatyakunjram
Daretrodaram Varam Varebhavaktramaksharam ।
Kripakaram Kshaman Mudakaram Yashkaram
Manaskram Namskritam Namsakaromi Bhaswaram ॥ 3 ॥

Akinchanartimarjanam Chirntanoktibhajanam
Puraripuravanandanam Surarigarvacharvanam ।
Pranchanachashabhishanam Dhananjayadibhusanam
Kapoladanavaranam Bhaje Puranavaranam ॥ 4 ॥

Nitanta Kanti Danta Kanti Manta Kanti Katmajan
Achintya Rupamanta Hina Mantraira Kranthanam ।
Hridayantre Nirantaram Vasanthamave Yoginam
Tamekdantmev Twam Vichintyamai Santam ॥ 5 ॥

Mahaganesha pancharatnamadaren Yonvahan
Prajalpati Prabhatake Hrdi Smaran Ganeshvaram ।
Arogatamadoshatan Susahitin Suputratan
Samahitayu rashtabhuti mabhyupaiti Sochirat ॥ 6 ॥

इसे भी पढ़े : भजगोविन्दं भजगोविन्दं गोविन्दं भज मूढमते

Credit the Video: The Art of Living YouTube Channel

इसे भी पढ़े : समस्त कष्टों से मुक्ति के लिए ॐ कृष्णाय वासुदेवाय मंत्र

श्री गणेश पंचरत्न हिंदी में

मुदाकरात्तमोदकं सदा विमुक्ति साधकं
कलाधरावतंसकं विलासि लोकरक्षकम् ।
अनायकैक नायकं विनाशितेभ दैत्यकं
नताशुभाशु नाशकं नमामि तं विनायकम् ॥ १ ॥

नतेतराति भीकरं नवोदितार्क भास्वरं
नमत् सुरारि निर्जरं नताधिका पदुद्धरम् ।
सुरेश्वरं निधीश्वरं गजेश्वरं गणेश्वरं
महेश्वरं तमाश्रये परात्परं निरन्तरम् ॥ २ ॥

समस्त लोक शंकरं निरस्तदैत्य कुञ्जरं
दरेतरोदरं वरं वरेभवक्त्र मक्षरम् ।
कृपाकरं क्षमाकरं मुदाकरं यशस्करं
मनस्करं नमस्कृतां नमस्करोमि भास्वरम् ॥ ३ ॥

अकिंचनार्ति मर्जनं चिरन्तनोक्ति भाजनं
पुरारि पूर्व नन्दनं सुरारिगर्व चर्वणम् ।
प्रपञ्चनाश भीषणं धनंजयादि भूषणम्
कपोल दानवारणं भजे पुराण वारणम् ॥ ४ ॥

नितान्त कान्त दन्त कान्ति मन्त कान्त कात्मजं
अचिन्त्य रूप मन्तहीन मन्तराय कृन्तनम् ।
हृदन्तरे निरन्तरं वसन्तमेव योगिनां
तमेकदन्तमेव तं विचिन्तयामि सन्ततम् ॥ ५ ॥

महागणेश पंचरत्नम आदरेण योऽन्वहं
प्रजल्पति प्रभातके हृदि स्मरन् गणेश्वरम् ।
अरोगतां अदोषतां सुसाहितीं सुपुत्रतां
समाहितायुरष्ट भूतिमभ्युपैति सोऽचिरात् ॥ ६ ॥

इसे भी पढ़े : ओम का अर्थ, उत्पत्ति, महत्व, उच्चारण, जप करने का तरीका और चमत्कार

Credit the Video: S.Aishwarya & S.Saundarya YouTube Channel

यह भी देखें: Om Krishnaya Vasudevaya Haraye

Disclaimer : Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी की आस्था को ठेस पहुंचना नहीं चाहता। ऊपर पोस्ट में दिए गए उपाय, रचना और जानकारी को भिन्न – भिन्न लोगों की मान्यता और जानकारियों के अनुसार, और इंटरनेट पर मौजूदा जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़कर, और शोधन कर लिखा गया है। यहां यह बताना जरूरी है कि (https://bhaktibharatki.com/) किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पूर्ण रूप से पुष्टि नहीं करता। मंत्र के उच्चारण, किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ, ज्योतिष अथवा पंड़ित की सलाह अवश्य लें। मंत्र का उच्चारण करना या ना करना आपके विवेक पर निर्भर करता है।

हमारे बारें में : आपको Bhakti Bharat Ki पर हार्दिक अभिनन्दन। दोस्तों नमस्कार, यहाँ पर आपको हर दिन भक्ति का वीडियो और लेख मिलेगी, जो आपके जीवन में अदुतीय बदलाव लाएगी। आप इस चैनल के माध्यम से ईश्वर के उपासना करना (जैसे कि पूजा, प्रार्थना, भजन), भगवान के प्रति भक्ति करना (जैसे कि ध्यान), गुरु के चरणों में शरण लेना (जैसे कि शरणागति), अच्छे काम करना, दूसरों की मदद करना, और अपने स्वभाव को सुधारकर, आत्मा को ऊंचाईयों तक पहुंचाना ए सब सिख सकते हैं। भक्ति भारत की एक आध्यात्मिक वेबसाइट, जिसको देखकर आप अपने मन को शुद्ध करके, अध्यात्मिक उन्नति के साथ, जीवन में शांति, समृद्धि, और संतुष्टि की भावना को प्राप्त कर सकते। आप इन सभी लेख से ईश्वर की दिव्य अनुभूति पा सकते हैं। तो बने रहिये हमारे साथ:

बैकलिंक : यदि आप ब्लॉगर हैं, अपनी वेबसाइट के लिए डू-फॉलों लिंक की तलाश में हैं, तो एक बार संपर्क जरूर करें। हमारा वाट्सएप नंबर हैं 9438098189.

सोशल मीडिया : यदि आप भक्ति विषयों के बारे में प्रतिदिन कुछ ना कुछ जानना चाहते हैं तो आपको Bhakti Bharat Ki संस्था के विभिन्न सोशल मीडिया खातों से जुड़ना चाहिए। उनके लिंक हैं:

Facebook
Instagram
YouTube

कुछ और महत्वपूर्ण लेख:

Green Tara Mantra
Black Tara Mantra
White Tara Mantra
Yellow Tara Mantra
Blue Tara Mantra

Related posts

Kashi Vishwanath Stotram Lyrics in English – Bhakti Bharat Ki

bbkbbsr24

Raghunath Mangal Stotram | रघुनाथ मंगल स्तोत्र

bbkbbsr24

Sri Venkateswara Stotram | श्री वेंकटेश्वर स्तोत्रम् | श्री वेङ्कटेश स्तोत्र

bbkbbsr24