31.1 C
Bhubaneswar
May 28, 2024
Aarti

Shri Annapoorna Devi Aarti | श्री अन्नपूर्णा देवी आरती

Credit the Video: Shemaroo Bhakti by Varsha Srivastava YouTube Channel

Shri Annapoorna Devi Aarti Lyrics in English – In Sanskrit means the word “Anna” is food or grain. The word “Purna” means full or complete. She is Shiva’s wife Annapurna, an incarnation of Goddess Parvati Mother. Anna sits on the lotus throne. From the mother has two hands, she holds a bowl in one hand and a spoon in the other Mother is giving food to Lord Shiva.

Shri Annapoorna Devi Aarti

॥ Annapoorna Devi Aarti ॥

Barmbar Pranam Meya, Barmbar Pranam ।
Jo Dayave Tumhi Ambike, Kaha Use Vishram ॥

Annpoorna Devi Naam Tumharo, Let Hote Sab Kaam ।
Parlay Ugantar Aur Janmantar, Kalantar Tab Naam ॥

Sur Suro Ko Rachna Karti, Kaha Krishn Kaha Ram ।
Chumhu Charan Chamhu Chaturann, Charu Chakdhar Shyam ॥

Chrand-Chuad Chandranan Chakar, Shobha Lakhhi Salam ।
Devi Dev Dayniy Dasha Mai, Daya Daya Tav Jama ॥

Trahi-Trahi Sharangat Vatsal, Sharanroop Tav Dhama ।
Shri Hi Shradha Ji Ae Vidhya, Shri Kali Kamla Kaam ॥

॥ Kranti Bhratimayi Kranti Shanti Sayovar Detu Nishkam ॥

श्री अन्नपूर्णा देवी आरती

बारम्बार प्रणाम मैया बारम्बार प्रणाम ।
जो नहीं ध्यावे तुम्हे अम्बिके, कहा उसे विश्राम ॥

अन्नपूर्णा देवी नाम तिहारो, लेत होत सब काम ।
प्रलय युगांतर और जन्मान्तर , कालांतर तक नाम ॥

सुर असुरों की रचना करती, कहाँ कृष्ण कहं राम ।
चुमहि चरण चतुर चतुरानन, चारू चक्रधर श्याम ॥

चंद्रचूड़ चन्द्रानन चाकर, शोभा लखही ललाम ।
देवी देव दयनीय दशा में, दया दया तब नाम ॥

त्राहि त्राहि शरणागतवत्सल, शरणरूप तव धाम ।
श्री ह्री श्रद्धा श्री ऐं, विद्या क्लीं कमला काम ॥

॥ कांटी भ्रान्तिमयी कांति, शांतिमयीवर दे तू निष्काम ॥

ଓଡ଼ିଆରେ ଅନ୍ନପୂର୍ଣ୍ଣା ଦେବୀ ଆରତୀ – ସଂସ୍କୃତ ଭାଷାରେ “ଆନ୍ନା” ଶବ୍ଦର ଅର୍ଥ ହେଉଛି ଖାଦ୍ୟ ବା ଶସ୍ୟ | “ପୂର୍ଣ୍ଣା” ଶବ୍ଦର ଅର୍ଥ ହେଉଛି ପୂର୍ଣ୍ଣ ବା ସମ୍ପୂର୍ଣ୍ଣ | ସେ ହେଉଛନ୍ତି ଶିବଙ୍କ ସ୍ତ୍ରୀ ଅନ୍ନପୂର୍ଣ୍ଣା, ଦେବୀ ପାର୍ବତୀଙ୍କ ଅବତାର | ମା ଅନ୍ନପୂର୍ଣା କମଲ ସିଂହାସନରେ ବସିଛନ୍ତି। | ମାତାଙ୍କର ଦୁଇଟି ହାତରୁ, ସେ ଗୋଟିଏ ହାତରେ ଗୋଟିଏ ପାତ୍ର ଏବଂ ଅନ୍ୟ ହାତରେ ଏକ ଚାମଚ ଧରିଛନ୍ତି | ମା ଭଗବାନ ଶିବଙ୍କୁ ଖାଦ୍ୟ ଦେଉଛନ୍ତି |

इसे भी पढ़े : समस्त कष्टों से मुक्ति के लिए ॐ कृष्णाय वासुदेवाय मंत्र

Disclaimer : Bhakti Bharat Ki / भक्ति भारत की (https://bhaktibharatki.com/) किसी की आस्था को ठेस पहुंचना नहीं चाहता। ऊपर पोस्ट में दिए गए उपाय, रचना और जानकारी को भिन्न – भिन्न लोगों की मान्यता और जानकारियों के अनुसार, और इंटरनेट पर मौजूदा जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़कर, और शोधन कर लिखा गया है। यहां यह बताना जरूरी है कि (https://bhaktibharatki.com/) किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पूर्ण रूप से पुष्टि नहीं करता। श्री अन्नपूर्णा देवी आरती के उच्चारण, किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ, ज्योतिष अथवा पंड़ित की सलाह अवश्य लें। श्री अन्नपूर्णा देवी आरती का उच्चारण करना या ना करना आपके विवेक पर निर्भर करता है।

इसे भी पढ़े : ओम का अर्थ, उत्पत्ति, महत्व, उच्चारण, जप करने का तरीका और चमत्कार

हमारे बारें में : आपको Bhakti Bharat Ki पर हार्दिक अभिनन्दन। दोस्तों नमस्कार, यहाँ पर आपको हर दिन भक्ति का वीडियो और लेख मिलेगी, जो आपके जीवन में अदुतीय बदलाव लाएगी। आप इस चैनल के माध्यम से ईश्वर के उपासना करना (जैसे कि पूजा, प्रार्थना, भजन), भगवान के प्रति भक्ति करना (जैसे कि ध्यान), गुरु के चरणों में शरण लेना (जैसे कि शरणागति), अच्छे काम करना, दूसरों की मदद करना, और अपने स्वभाव को सुधारकर, आत्मा को ऊंचाईयों तक पहुंचाना ए सब सिख सकते हैं। भक्ति भारत की एक आध्यात्मिक वेबसाइट, जिसको देखकर आप अपने मन को शुद्ध करके, अध्यात्मिक उन्नति के साथ, जीवन में शांति, समृद्धि, और संतुष्टि की भावना को प्राप्त कर सकते। आप इन सभी लेख से ईश्वर की दिव्य अनुभूति पा सकते हैं। तो बने रहिये हमारे साथ:

इसे भी पढ़े : सांस लेने और छोड़ने की क्रिया से मन स्थिर हो जाता है

बैकलिंक : यदि आप ब्लॉगर हैं, अपनी वेबसाइट के लिए डू-फॉलों लिंक की तलाश में हैं, तो एक बार संपर्क जरूर करें। हमारा वाट्सएप नंबर हैं 9438098189.

इसे भी पढ़े : भजगोविन्दं भजगोविन्दं गोविन्दं भज मूढमते

विनम्र निवेदन : यदि कोई त्रुटि हो तो आप हमें यहाँ क्लिक करके E-mail (ई मेल) के माध्यम से भी सम्पर्क कर सकते हैं। धन्यवाद।

इसे भी पढ़े : अमृत ​​है हरि नाम जगत में

सोशल मीडिया : यदि आप भक्ति विषयों के बारे में प्रतिदिन कुछ ना कुछ जानना चाहते हैं, तो आपको Bhakti Bharat Ki संस्था के विभिन्न सोशल मीडिया खातों से जुड़ना चाहिए। इस ज्ञानवर्धक वेबसाइट को अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। उनके लिंक हैं:

Facebook
Instagram
YouTube

कुछ और महत्वपूर्ण लेख:

Hari Sharanam
नित्य स्तुति और प्रार्थना
Om Damodaraya Vidmahe
Rog Nashak Bishnu Mantra
Ram Gayatri Mantra
Dayamaya Guru Karunamaya

Related posts

Khatu Shyam Ji Ki Aarti | खाटू श्याम जी की आरती

bbkbbsr24

Shani Dev Aarti | शनिदेव की आरती

bbkbbsr24

Ambe Mata Aarti | अम्बे माता आरती

bbkbbsr24